गुरूवार, अक्टूबर 29, 2020
होम एथलेटिक्स एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप : पहले दिन 2 रजत के साथ भारत को...

एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप : पहले दिन 2 रजत के साथ भारत को 5 पदक

दोहा में हो रही 23वी एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2019 के पहले दिन भारत ने 5 पदक अपने नाम किये है।

 चैंपियनशिप में भारत ने अपना खाता कांस्य पदक के साथ खोला, महिलाओं की 5000 मीटर रेस में पारुल चौधरी ने अपना पर्सनल बेस्ट टाइम निकलते हुए तीसरा स्थान हासिल किया, पारुल ने यह रेस 15:36:03 सेकण्ड्स में पूरी की, इसी स्पर्धा में संजीवनी बाबूराव जाधव ने सीजन बेस्ट टाइम (15:41:12) निकालते हुए चौथा हासिल किया। प्रतियोगिता का स्वर्ण और रजत पदक बहरीन की धावकों को मिला, रेस के मध्यांतर में ही तीनो धावकों ने बढ़त लेना शुरू कर दी थी, लेकिन आखिरी के क्षणों में बहरीन की धावकों की गति के आगे पारुल का प्रदर्शन थोड़ा कमज़ोर रह गया । पारुल ने अपना पर्सनल बेस्ट देते हुए फेडरेशन कप में स्कोर किये टाइमिंग से कई अधिक गुना अच्छा टाइमिंग स्कोर किया ।

रेस के बाद पारुल ने कहा की “मुझे इस बात की कोई चिंता नहीं थी की लीड करने वाले धावक अपनी गति लगातार बढ़ा रहे है, मै अपने निर्धारित प्लान और जिस तरह से मेरी शारीरिक क्षमता महसूस कर रही थी, उसी के हिसाब से दौड़ रही थी ।”

चित्र : कतर एथलेटिक्स फेडरेशन

 दिन का दूसरा पदक भारत को महिलाओं की ही जेवलिन थ्रो स्पर्धा मे मिला, राष्ट्रीय रिकॉर्ड होल्डर अन्नू रानी ने 60.22 मीटर की दूरी के साथ रजत पदक अपने नाम किया, उन्होंने ये दूरी अपने पहले ही थ्रो में हासिल कर ली थी। चीन की ल्यू हुईहुई को प्रतियोगिता का स्वर्ण पदक मिला। पदक जितने के बाद अन्नू ने कहा कि “मै आज अच्छा प्रदर्शन कर रही थी, मैं जानती थी कि मैंने इस इवेंट के लिए अच्छे से तैयारी की है । मै अपना पर्सनल बेस्ट आज हासिल कर सकती थी लेकिन मेरा थ्रो लाइन से ज़्यादा दूर नहीं गया।”

 महिलाओं की 400 मीटर रेस में एम. आर. पूवम्मा ने 53.21 सेकण्ड्स के टाइम के साथ कांस्य पदक जीता, वो मोरनिंग सेशन में हुयी सेमी फाइनल हिट में स्कोर किये अपने सीजन बेस्ट टाइमिंग, 52.46 सेकण्ड्स को नहीं दोहरा पायी, इस स्पर्धा में भारत को सबसे बड़ी निराशा तब लगी जब हिमा दास को सेमी फाइनल हिट में बीच रेस में पीठ की चोट की वजह से बाहर होना पड़ा।

हिमा की चोट के बारे में बताते हुए डिप्टी चीफ कोच राधाकृष्णन नायर ने कहा कि “हिमा के L4 और L5 में ऐठन थी, फील्ड पे मौजूद डॉक्टर ने बताया है कि उन्हें कोई गंभीर चोट नहीं आयी है, वह एक या दो दिन में ठीक हो जाएगी।” हालाँकि उनके रिले रेस में पार्टिसिपेशन पर अभी भी संदेह बना हुआ है।

 अविनाश साबले ने पुरुषों की 3000 मीटर स्टीपलचेस रेस में 8:30:19 सेकण्ड्स का टाइम निकालते हुए रजत पदक जीता, रेस के शुरुआती लेप्स में अविनाश चौथे स्थान पर चल रहे थे लेकिन फाइनल लैप मे अपनी गति को बढ़ाते हुए उन्होंने दूसरा स्थान हासिल किया, बहरीन के जॉन कोएच ने वर्ल्ड लीडिंग टाइमिंग (8:25:87) के साथ प्रतियोगिता का स्वर्ण पदक जीता। भारत के ही शंकरलाल स्वामी ने यह रेस 8:53:02 सेकण्ड्स के साथ आठवे स्थान पर पूरी की।

 दिन का आखिरी पदक पुरुषों की 10000 मीटर रेस में आया, मुरली कुमार गवित ने अपने पर्सनल बेस्ट टाइमिंग (28:38:34 सेकण्ड्स) के साथ तीसरे स्थान पर रहते हुए कांस्य पदक जीता, बहरीन ने ही प्रतियोगिता का स्वर्ण और रजत पदक हासिल किया, भारत के ही अभिषेक पाल इस प्रतियोगिता में आठवे स्थान पर रहे।

चित्र : एकिडन न्यूज़

 दिन के अन्य परिणामो में दुती चंद ने महिलाओं की 100 मीटर हिट्स में नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाते हुए सेमी फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया है, उन्होंने हिट्स में 11.28 सेकण्ड्स का टाइम निकालते हुए अपने पुराने 11.29 सेकण्ड्स के राष्ट्रीय रिकॉर्ड को ध्वस्त किया ।

 पुरुषों की ट्रिपल जम्प प्रतियोगिता में युथ ओलिंपिक गेम्स में कांस्य पदक जितने वाले प्रवीण चितरावेल ने 15.66 मीटर की जम्प के साथ नौवे स्थान पे रहकर फाइनल के लिए क्वालीफाई किया।

 महिलाओं की 400 मीटर हर्डल में सरिताबेन गायकवाड़ और अर्पिता मंजुनाथ ने फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया है। अर्पिता ने हीट 1 में 58.20 सेकण्ड्स के साथ दूसरे स्थान पर रही वही सरिताबेन भी हीट 2 में 58.17 सेकण्ड्स के टाइमिंग के साथ दूसरे स्थान पे रही। पुरुषो की 400 मीटर हर्डल स्पर्धा में जबीर एम पी ने हीट 2 में 50.15 सेकण्ड्स का टाइम निकालते हुए फाइनल में अपनी जगह बनायीं।

 पुरुषों की 400 मीटर रेस के लिए दोनों भारतीय धावक, अरोकिया राजीव और मुहम्मद अनस ने फाइनल में जगह बना ली है, सेमी फाइनल हिट में अनस ने 46.10 सेकण्ड्स के टाइमिंग के साथ पाचवे स्थान पर रहे, उन्होंने दूसरे फास्टेस्ट लूजर के तौर पर फाइनल में स्थान हासिल किया वही अरोकिया राजीव ने 45.96 सेकण्ड्स का टाइम निकालते हुए अपनी सेमिफनल हिट जीत कर फाइनल में स्थान पक्का किया। इससे पूर्व मॉर्निंग सेशन में हुयी क्वालीफाइंग हिट 1 में अनस ने 46.36 सेकण्ड्स के टाइम के साथ तीसरे स्थान पे रहते हुए सेमी फाइनल में अपनी जगह बनायीं थी, अरोकिया राजीव ने हिट 4 को 46.25 सेकण्ड्स के साथ जीतकर सेमी फाइनल के लिए क्वालीफाई किया था ।

 पुरुषों की 800 मीटर रेस में भी दोनों भारतीय, मोहम्मद अफसल और जिनसन जॉनसन ने फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया है, मोहम्मद अफसल ने सेमी फाइनल हिट में 1:50:47 सेकण्ड्स का टाइम निकालते हुए क्वालीफाई किया वही जिनसन ने सेमी फाइनल रेस को 1:50:65 सेकण्ड्स में पूरा करते हुए फाइनल में जगह बनायीं। महिलाओ की 800 मीटर स्पर्धा में गोमती मरीमाथु ने 2:04.96 सेकण्ड्स के साथ फाइनल के लिए क्वालीफाई किया, ट्विंकल चौधरी 2:07.00 के साथ सेमी फाइनल हिट में चौथे स्थान पे रही और फाइनल में जगह नहीं बना पायी।

 पदक तालिका में अभी भारत पाचवे स्थान पर है, बहरीन चार स्वर्ण और तीन रजत पदक के साथ शीर्ष पर बना हुआ है।